May 26, 2024

News Solid

सच की हद तक

अतीक व उसके भाई अशरफ की हत्या की खबर सुनते ही शहीद हुए सिपाही संदीप के परिजन काफी खुश हैं

Share This News

माफिया अतीक अहमद व उसके भाई अशरफ की प्रयागराज में हत्या की खबर सुनते ही उमेश पाल हत्याकांड में शहीद हुए सिपाही संदीप के परिजन काफी खुश है। उनका कहना है कि अब इंसाफ मिला है और कलेजे को ठंडक पहुंची है। इसके साथ ही परिजनों ने यह भी कहा कि अभी जो बचे है उनका भी खात्मा होना चाहिए। अब तक की पुलिस कार्रवाई व अन्य कवायद पर शहीद सिपाही के परिजनों ने संतुष्टि जाहिर किया है।

प्रयागराज में राजू पाल हत्याकांड के मुख्य गवाह उमेश पाल की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड में उमेश पाल के सुरक्षा में तैनात रहे आजमगढ़ जिले के अहरौला थाना अंतर्गत विसईपुर गांव निवासी सिपाही संदीप निषाद की भी मौत हो गई थी। संदीप की मौत के बाद से ही उनका पूरा परिवार माफिया अतीक व उसके गुर्गो के साथ ही परिवार के खात्मे की मांग शासन-प्रशासन ने कर रहा था। दो दिनों पूर्व झांसी में अतीक के पुत्र असद व एक शूटर की मुठभेड़ में मारे जाने की सूचना मिलने पर शहीद सिपाही के परिजनों ने खुशी जतायी थी और मुख्यमंत्री के प्रति आभार व्यक्त किया था।

वहीं शनिवार की रात माफिया अतीक व उसके भाई अशरफ की तीन युवकों ने उस समय ताबड़तोड़ गोली मर कर हत्या कर दी जब दोनों को पुलिस मेडिकल के लिए लेकर अस्पताल पर पहुंची थी। असद के बाद अतीक व अशरफ के भी मारे जाने की सूचना पर मिलते ही शहीद सिपाही संदीप के परिजन खुशी से झूम उठे। शहीद सिपाही की मां समुद्रा देवी ने कहा कि अब कलेजे को ठंडक पहुंची है।


Share This News