April 16, 2024

News Solid

सच की हद तक

बरेली शाह शराफत मियां दरगाह के सज्जादानशीन सकलैन मियां का इंतकाल शुक्रवार देर शाम उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया।

संवाददाता शाहिद अंसारी
Share This News

बरेली। सुन्नी मुसलमानों में बड़े धर्मगुरु और शाह शराफत अली मियां दरगाह के सज्जादानशीन (पीरो मुर्शिद)शाह सकलैन मियां शुक्रवार शाम को दुनिया से रुखसत हो गए। मियां की तबीयत बिगड़ने पर निजी अस्पताल में भर्ती कराया था।
शुक्रवार देर शाम उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। उनके विसाल की खबर फैलते ही अकीदतमंदों में गम की लहर दौड़ गई। पीरो मुर्शिद का निवास बदायूं के ककराला में है। दरगाह से जुड़े लोगों ने बताया कि शुक्रवार को पीरो मुर्शिद की तबीयत बिगड़ गई और अस्पताल में इंतकाल हो गया। दरगाह शाह शराफत के सज्जादानशीन पीरो मुर्शिद शाह सकलैन मियां के विसाल की खबर आई तो उनके अकीदतमंद भारी सदमे से आ गया। जो जिस जहां था वहीं से दरगाह की ओर दौड़ना शुरू कर दिया। शुक्रवार की देर शाम कुतुबखाना चौराहे से आलमगिरीगंज से लोगों

की भीड़ शाहबाद की ओर जाने लगी। आंखों से आंसू बह रहे थे और मुरीद पीरे की आखिरी झलक देखने के लिए उमड़ पड़े। शहर ही नहीं आसपास से भीड़ शाहबाद की गलियों में उमड़नी शुरू हो गई। तमाम लोग अपना गम नहीं संभाल सके और रोते-बिलखते नजर आए। पीरो मुर्शिद का विसाल शाम 8:30 बजे के करीब निजी अस्पताल में हुआ। हजरत शाह सकलैन एकेडमी ऑफ इंडिया सचिव हजी लतीफ सकलैनी ने बताया कि पैदाइश बदायूं के कंकराला में हुई। परिवार के साथ बरेली में ही रहते। शुक्रवार को मुर्शिद ने जुमा नमाज पढ़ी और मुरीदों से मिले। जो लोग उनसे मिलने आए, उनसे बातचीत भी की। मुरीदों की भीड़ इतनी थी कि शाम 4:30 बजे वो आराम करने निकले। उन्होंने बताया कि अचानक काफी तबीयत बिगड़ गई ।अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई। पीरो मुर्शिद हमको यतीम करके चले गए। गरीब बेटियों के कराया सामूहिक निकाह दरगाह शाह शराफत के सज्जादानशीन पीरो मुर्शिद हमेशा भाईचारा आपसी सौहार्द और दीन पर चलने का पैगाम देते रहे। सकलैन मियां की पैदाईश बदायूं का कस्बा ककराला में हुई। पीरो मुर्शिद ने का अहम मकसद गरीब बेटियों का सामूहिक निकाह सुन्नत और शरीयत पर कराने का रहा है।

गुजरात से लेकर मुंबई और उत्तर प्रदेश समेत तमाम प्रदेशों में सैकड़ों सामूहिक निकाह कार्यक्रम उनकी सरपरस्ती में हुए। सकलैन मियां की कमी को पूरा करना मुश्किल पीरो मुर्शिद के विसाल की खबर सुनते ही लोग शोक संवेदना देने लगे। इसवा के अध्यक्ष डा. अनीस बेग ने कहा कि हमारे बरेली की शान हमारे बीच से इस दुनिया से रुखसत हो गए। दुआ करते हैं कि अल्लाह उनकी मगफिरत फरमाए। जन्नत में आला मुकाम अता फरमाए।


Share This News