May 26, 2024

News Solid

सच की हद तक

सरकार से नाराज़ किसानों ने की तहसील गेट पर तालाबंदी

Share This News

उत्तराखंड के जनपद उधम सिंह नगरबाज़पुर की 20 गाँव की 5838 एकड़  भूमि से जुड़ा मामला सुलझता नहीं दिखाई दे रहा है। जिसके चलते आज संयुक्त किसान मोर्चा के आवाहन पर सभी किसानों एवं व्यापारियों ने तहसील गेट पर तालाबंदी कर सड़क पर बैठकर आंदोलन किया और शासन प्रशासन की तरफ़ से की जा रही अनदेखी को लेकर अपनी नाराज़गी ज़ाहिर की। सैकड़ों की संख्या में किसान व्यापारी एवम् महिलाएँ मुख्य मार्ग पर आंदोलन में बैठे नज़र आये।

आपको बता दें कि भूमि बचाव आंदोलन को लेकर तहसील में लगातार पिछले 75 दिनों से  आंदोलन किया जा रहा है। जिसके चलते आज किसानों ने अपनी नाराज़गी दिखाते हुए बाजपुर के तहसील गेट पर ताला जड़ दिया। तालाबंदी के चलते तहसील के लगभग पाँच कार्यालयों का कार्य प्रभावित रहा। किसान अपनी माँगो को लेकर धरने पर डटे रहे। अलग अलग किसान संगठनों का भी आंदोलन को सहयोग मिला। भूमि बचाओ आंदोलन की मुहिम के संयोजक जगतार सिंह बाजवा ने आंदोलन में किसानों एवं व्यापारियों के साथ की जा रही अनदेखी पर नाराज़गी व्यक्त की और मंच के माध्यम से सरकार को चेतावनी दे डाली कि यदि इसी तरीक़े सरकार उनकी माँगो को अनदेखा करती रही तो जल्द ही उग्र आंदोलन किया जाएगा, तहसील के साथ साथ अन्य सरकारी दफ़्तर भी बंद कराए जाएंगे।


आंदोलन के दौरान पूर्व प्रधान रंजीत सिंह सोनू ने बताया कि पिछले ढाई महीने से शासन प्रशासन से बात चीत की जा रही है लेकिन कोई ठोस समाधान हमें नहीं दिया जा रहा है। आठ दिन पूर्व तहसील की तालाबंदी के बारे में प्रशासन को जानकारी दे दी गई थी। जिसके चलते आज तालाबंदी की गई।  रंजीत सिंह ने कहा कि यदि उनकी माँगो को जल्द पूरा नहीं किया गया तो जल्द ही हाईवे जाम किया जाएगा और तहसील में अनिश्चित काल के लिए कार्य बंद करा दिया जाएगा।

मामले को बढ़ता देख उपजिलाधिकारी राकेश चंद तिवारी धरना स्थल पर पहुँच गये और किसानों को समझाने का प्रयास किया लेकिन किसान अपनी माँगो को लेकर डटे रहे । इस दौरान लगभग एक घण्टे तक उपजिलाधिकारी धरना स्थल पर किसानों के साथ बैठे नज़र आए। कुछ समय बाद उपजिलाधिकारी द्वारा किसानों को आश्वासन देकर तहसील गेट पर की गई तालाबंदी को खुलवा दिया गया।


Share This News