February 28, 2024

News Solid

सच की हद तक

कुमाऊ कमिश्नर दीपक रावत का अलग अंदाज, मिली खामियाँ लगाई फटकार

Share This News

बाजपुर। अपने अलग अंदाज में जाने जानें वाले उत्तराखंड कुमाऊं मण्डल के कमिश्नर दीपक रावत एक बार फिर अपने अलग अंदाज में नजर आये हैं। जहां उधम सिंह नगर के बाजपुर में चल रहे नमामि गंगे प्रोजेक्ट का निरीक्षण किया। आयोजित कार्यक्रम निरीक्षण के दौरान मंडल आयुक्त दीपक रावत के सामने कई खामियाँ सामने आई जिसके बाद उन्होंने पहले कॉन्टैक्टर और कार्यदाई संस्था की जम कर फटकार लगाई उसके बाद उन्होंने कंपनी के इंजिनियरो की डिग्री पर ही सवाल खड़े कर दिए और बोल दिया इन्हें इंजिनियर किसने बनाया है। साथ में कर्मचारियों के रहने की व्यवस्था देखी और प्रोजेक्ट पर मौजूद बॉशरूम जाने के बहाने निरीक्षण किया जिससे अधिकारियो में हड़कंप मचा रहा।

आपको बता दें कि उधम सिंह नगर के बाजपुर में नमामि गंगे प्रोजेक्ट के निरीक्षण के कार्यक्रम आयोजित किया गया था जिसमें मंडलायुक्त ने निरीक्षण के दौरान कई खामियां पाए जाने पर सख्त नाराजगी जाहिर की जहाँ कंपनी पर जुर्माना लगाने के दिए निर्देश पेजल अधीक्षण अभियंता मृदुला सिंह को दिए। उन्होंने गुणवत्ता परीक्षण हेतु पानी में रखे गए कंक्रीट निर्मित क्यूब मिट्टी में दबे होने पर की सख्त नाराजगी व्यक्त की। अपने सामने ही जेसीबी से मिट्टी हटवाकर क्यूब को देखा क्यूब्स के परीक्षण आदि के बारे में विस्तार से रजिस्टर से मिलान किया।

वीडियो देखने के लिये यहाँ क्लिक करें

पानी से अलग रखे हुए क्यूब्स की अपने सामने गुणवत्ता परीक्षण कराया जिसमें सभी चिन्हित क्यूब (2 क्यूब ) गुणवत्ता परीक्षण में फेल हो गए। मंडलायुक्त ने पानी में रखे गए सभी क्यूब का जीबी पंत कृषि एवम प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय से कराने के दिए निर्देश दिए। उन्होंने कम्पनी के इंजीनियरों द्वारा सही प्रकार से व साइंटिफिक जवाब न देने पर कम्पनी के इंजीनियरों की डिग्री एवम डिप्लोमा की भी जांच कराने के दिए निर्देश। गुणवत्ता परीक्षण से संबंधित रजिस्टर, अन्य लैब्स से प्राप्त रिपोर्ट्स का भी गहनता से अवलोकन किया। अनटेस्टेड क्यूब्स, रिसीविंग तथा मेकेनिकल चैंबर, घोघा नाले आदि का गहनता से निरीक्षण करते हुए महत्वपूर्ण दिशा–निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए।

मंडलायुक्त ने निरीक्षण के दौरान कई खामियां पाए जाने पर सख्त नाराजगी जाहिर की जहाँ कंपनी पर जुर्माना लगाने के दिए निर्देश पेजल अधीक्षण अभियंता मृदुला सिंह को दिए। उन्होंने गुणवत्ता परीक्षण हेतु पानी में रखे गए कंक्रीट निर्मित क्यूब मिट्टी में दबे होने पर की सख्त नाराजगी व्यक्त की।  उन्होंने सभी प्रोजेक्ट्स पर कार्य कर रहे कंपनी के इंजीनियरों की डिग्री तथा डिप्लोमा की छाया प्रतियां निर्माणाधीन साइड्स पर रखवाने के भी निर्देश दिए। मंडलायुक्त ने स्पष्ट निर्देश दिए की गुणवत्ता के साथ किसी भी दशा में समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने निर्माण कार्य पर पैनी नज़र बनाए रखने तथा समय–समय पर निर्माणाधीन साइड्स का निरीक्षण करने के निर्देश जल निगम के अभियंताओं को दिए।


Share This News